स्वतंत्र दिवस कब मनाया जाता है?

 पूरे भारत में स्वतंत्र दिवस (independence day) कब मनाया जाता है और ये दिन पूरे भारत के लिए क्यों महत्वपूर्ण दिन है क्योंकि इस दिन को ही हमारे पूरे भारत को आजादी मिली थी इसलिए यह दिन हम आजादी के दिन कहते हैं तो मैं आपको बताऊंगा independence day in hindi के बारे में।


हमारे देश भारत में स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त 1943 को मनाया गया है तब से लेकर आज तक ये स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त को ही मनाते हैं क्या आपको पता है कि स्वतंत्र दिवस क्या है स्वतंत्र दिवस कब मनाया जाता है अगर आप नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल को पूरे लास्ट तक अवश्य पढ़िए क्योंकि इस आर्टिकल में सभी जानकारी प्राप्त होगा।

independence day kab manaya hai

स्वतंत्र दिवस पूरे भारत में राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया जाता है यह दिन ब्रिटिश के सिकंजो से आजादी दिलाने के लिए हमारे स्वतंत्र सेनानियों ने अपने भारत के लोगों के बहादुर होने का प्रतीक है ब्रिटिश के शासन से अपने देश भारत को आजादी मिली थी इसलिए स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त को मनाते हैं और पूरे भारतीय एकजुट होकर अपने देश के शक्ति को दर्शाते हैं।


इसलिए यह दिन 15 अगस्त 1947 को भारत स्वतंत्र देश बना इसलिए यह या दिन को याद रखने के लिए ऐप्स प्रतिवर्ष पूरे देश में छुट्टी क्यों का आयोजित कि जाती हैं लेकिन बहुत से लोग कोई पता नहीं होता है कि कि स्वतंत्र दिवस कब मनाया जाते हैं।


रक्षा बंधन कैसे मनाया जाता है?

हम इनके बारे में पूरा विस्तार से जानते हैं स्वतंत्र दिवस कब मनाया जाते हैं और क्यों मनाया जाते हैं।


स्वतंत्र दिवस क्या है? (What is independence day in hindi)

स्वतंत्रा दिवस एक राष्ट्रीय दिन है यह दिन वह दिन है जो कि हमारे भारत देश को आजादी मिली थी इसे हम राजपत्रित छुट्टी के नाम से जानते हैं और इसे हम आजादी के भी नाम से जानते हैं दोस्तों अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीके से आजादी मनाया जाता है।

independence day kab manaya hai

भारत में स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त को मनाया जाता है क्योंकि हमारे देश भारत 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश सरकार से लड़कर हमारे भारत के महान व्यक्तियों ने आजादी दिलवाई यह त्यौहार भारत के राष्ट्रीय त्योहार है इसे प्रतिवर्ष भारत के प्रधानमंत्री लाल किले पर देश को संबोधित करते हैं और राष्ट्रीय ध्वज भी फहराते हैं।


इस दिन है झंडा फहराने का बहुत बड़ा समारोह है और इसके साथ साथ परेड और संस्कृति को आयोजन भी किया जाता है पूरे देश में इस दिनों पर हमारे पूरे भारत में धूमधाम से मनाया जाता है और यदि हर तरह से हमारे वीरों के लिए यादगार के दिन है।


स्वतंत्रा दिवस कब मनाया जाता है? (When is Independence Day celebrated)

स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त 1947 जो हमारे देश पर जब ब्रिटिश सरकार ने राज कर रही होती हैं तो हमारे देशवासियों लड़कर आजादी दिलाई तो इसकी याद में स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त को मनाते हैं उसी दिन एक नया स्वतंत्र भारत का जन्म हुआ।


इन दिनों अंग्रेजी को भारत देश छोड़कर जाना पड़ा और हमारे राजनेता के हाथ में भारत को शोपना पड़ा इसलिए यह दिन भारत के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण दिन माना जाता है और भारतीय इस दिनों का बहुत ही धूमधाम से मनाती हैं।


भारत को लंबे वर्षों के बाद ब्रिटिश सरकार से आजादी मिली 15 अगस्त 1947 को ब्रिटिश साम्राज्य से भारत देश संपूर्ण रूप से आजादी मिली पूरे भारत में राष्ट्रीय अवकाश के रूप में घोषित किया गया है।


अंग्रेजों से स्वतंत्र पाना इतना आसान नहीं था लेकिन हमारे कुछ महान व्यक्तियों ने और सेना सच कर दिया महान व्यक्तियों ने अपनी पीढ़ी के बजय दूसरे को पीढ़ी के चिंता करने की वजह से अपने जान त्याग दी उन्होंने पूर्ण स्वतंत्र प्राप्त करने के लिए हिंसक और अहिंसक और विभिन्न तरह के आंदोलन पर योजना बनाई और उस पर काम करना शुरू कर दिया।


इस दिन को सभी राष्ट्रीय और राज्य के स्थानीय सरकार ने कार्यालय, डाकघर, बैंक, बाजार, स्टोर, व्यवसाय और संगठन यदी को बंद रहता है और सार्वजनिक परिवहन चालू रहता है।


भारत के पूरे गांव में उत्साहित के साथ मनाया जाता है साथ ही साथ सामुदायक और सामाज सहित छात्रा और शिक्षक के द्वारा सभी स्कूलों,कॉलेज में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है।


स्वतंत्र दिवस मनाते हैं कि जो कि हमारे पूरे भारत के सेना ने अपने लड़ते-लड़ते परान तक निछावर कर दिया उनको याद में स्वतंत्र दिवस मनाते हैं। भारत में पहला स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त में तो 47 कब मनाया गया था इस दिनों के मध्य रात्रि में भारत के पंडित जवाहरलाल नेहरू ने स्वतंत्र देश घोषित किया था और उन्होंने भाषण भी दिया था।



स्वतंत्र दिवस 15 अगस्त को ही क्यों मनाया जाता हैं? (Why is Independence Day celebrated on 15th August only?)

सन 1947 में पूरे भारत के निवासी ब्रिटिश शासन से स्वतंत्र प्राप्त किया इसलिए यह त्यौहार राष्ट्रीय त्योहार माना जाता है इन दिनों झंडा फहराया जाता है।


प्रतिवर्ष भारत के प्रधानमंत्री लाल किले पर प्राचीर देशवासियों को संबोधित करते हैं यह दिन झंडा फहराने का समरोहा हैं इसके अलावा परेड और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किया जाता है।


भारत का पहला स्वतंत्र दिवस कब मनाया गया था?


भारत देश पर 15 अगस्त को स्वतंत्र दिवस (independence day 2021) की 75वीं वर्षगांठ (75th independence day) मनाने जा रहे है 15 अगस्त 1947 को भारत देश को आजादी मिली थी इसलिए यह दिन भारत के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण दिन माना जाता है।

15 अगस्त रविवार के दिन दिल्ली के लाल किले पर प्रधानमंत्री के द्वारा संबोधित किया जाएगा।


15 अगस्त का क्या महत्व है?

15 अगस्त भारत के स्वतंत्र  दिवस के रूप में मनाया जाता है आज ही के दिन हमारा देश अंग्रेजों के  अत्याचारों से स्वतंत्र हुआ था इसलिए यह दिन को हम स्वतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं यह दिन हमे आजादी के लिए स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए त्याग और बलिदान की याद दिलाता है। इसलिए हम 15 अगस्त स्वतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं|


15 अगस्त 1947 का इतिहास

 सन् 1947 में इसी दिन भारत के निवासियों ने ब्रिटिश शासन से स्‍वतंत्रता प्राप्त की थी।इसलिए हम भारतीय हैं इसे राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाते हैं 15 अगस्त 1947 को भारत के प्रथम राष्ट्रपति पंडित जवाहरलाल नेहरू ने दिल्ली के लाल किले गेट के ऊपर भारतीय ध्वज फहराया था थे|

इसलिए इसे प्रतिवर्ष बहुत ही धूमधाम से त्योहारों की तरह मनाते हैं और अंग्रेजों द्वारा हमारा देश छोड़े जाने का और हमारा देश को संपूर्ण आजादी मिलने के लिए बहुत-बहुत मैं आभारी हूं महान नेताओं को जिन्होंने हमारे भारत देश देश को आजादी दिलाई और यहां तक कि अपनी जान  त्याग दिया| 


निष्कर्ष:-

 मुझे उम्मीद है कि आपको स्वतंत्रा दिवस कब मनाया जाता है?  इसके बारे में संपूर्ण रूप से जानकारी प्राप्त हो चुका होगा इसमें बहुत से हमारे महान सेनानियों ने अपनी बलिदान त्याग चुके हैं  इनकी यादों में हम स्वतंत्र दिवस मनाते हैं|

 अगर आपको यह आर्टिकल पढ़ने के बाद पसंद आया तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले क्योंकि इस आर्टिकल को पढ़कर बहुत से हमारे भारतीयों को स्वतंत्र दिवस की जानकारी प्रदान हो सकती है|

Post a Comment

0 Comments