कैलकुलेटर का आविष्कार किसने और कब किया

 क्या आप जानना चाहते हैं कैलकुलेटर का आविष्कार किसने और कब किया दरअसल आपको हर जगह पर कैलकुलेटर देखने को मिलेगा चाहे स्मार्टफोन हो या फिर कंप्यूटर आपको हर जगह कैलकुलेटर देखने को मिलेगा क्योंकि कैलकुलेटर हमारे जीवन के लिए मुख्य यंत्र है जिसके इस्तेमाल करके हम किसी भी हिसाब किताब को बरकरार रख सकते हैं इसलिए मैंने सोचा कि क्यों ना कैलकुलेटर के बारे में आप लोग को बताया जाए|

दुनिया के जितने भी बड़ी बड़ी कंपनी होती है उन सभी कंपनियों में आपको कैलकुलेटर देखने के मिलेगा कैलकुलेटर के माध्यम से आप अपने हिसाब को और अच्छा से कर सकते हैं अगर आप नॉर्मल दुकान पर या फिर शॉप पर जाते हैं तो आपको वहां पर भी कैलकुलेटर देखने के मिलता है अगर हम बिना कैलकुलेटर के हिसाब किताब करें तो काफी समय लग जाएगा हिसाब किताब करने में और कैलकुलेटर के माध्यम से ही साफ करे तो दो बहुत ही कम समय में कर सकते हैं इसका यही कारण है कि कैलकुलेटर को इस्तेमाल करना हमारे जीवन में बहुत जरूरी है |

calculator ka avishkar kisne kiya

जब कैलकुलेटर नहीं था तो वह समय के लोग पत्थर के टुकड़े के लिए करके कैलकुलेशन करके थे लेकिन जैसे-जैसे विकसित हुआ तो कागज और पेंसिल का अविष्कार हुआ उसके बाद कलकुलेशन करना बहुत ही आसान हो गया तब जाकर के धीरे-धीरे इलेक्ट्रॉनिक कैलकुलेटर का आविष्कार हुआ तो आइए हम इसके बारे में कुछ और जानकारी जानते हैं|

 कैलकुलेटर क्या है? (What is calculator in Hindi)

कैलकुलेटर एक छोटा सा पोर्टेबल इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो की मैथ की गणना करती है जैसे कि गुणा,भागा, घटाव,प्रतिशत इसके अलावा और भी मैथमेटिक्स है जिसकी गणना करती है दोस्तों आप के जानकारी के लिए मैं बता दूं कि बड़ी-बड़ी गणना करने के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है वहीं पर जब छोटी गणना की बात आती है तो कैलकुलेटर का उपयोग किया जाता है|

दोस्तों कैलकुलेटर में एक सोलर प्लेट लगाया गया है जोकि ऑटोमेटिक चार्ज हो जाती है पहले कैलकुलेटर में बैटरी डालना पड़ता था लेकिन जैसे-जैसे इसका आविष्कार विकसित हुआ तो इसमें सोलर प्लेट का इस्तेमाल किया गया जिसके जरिए ऑटोमेटिक चार्जिंग हो जाती है | आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि अगर आप कैलकुलेटर से बहुत बड़ी मैथमेटिक्स कर रहे हैं नहीं हो पाएगा क्योंकि इसके लिए आपको कंप्यूटर का इस्तेमाल करना पड़ेगा क्योंकि कंप्यूटर में बड़े मैथमेटिक्स की गणना नहीं की जा सकती हैं केवल छोटी मैथमेटिक्स की गणना की जाती है|

पेन का अविष्कार किसने किया 

घड़ी की खोज किसने किया?

कैलकुलेटर का आविष्कार किसने किया

कैलकुलेटर का आविष्कार 1942 में फ्रांसीसी वैज्ञानिक ब्लेज़ पास्कल के द्वारा किया गया था उस समय इसका उम्र 19 वर्ष था यह कैलकुलेटर में interlocking gear थे यह कैलकुलेशन में बहुत ही तेज और चलाक थे उस समय कैलकुलेटर में बहुत कमियां थी 19वीं सदी में उद्योग क्रांतिकारी के बाद बदला हुआ और अमेरिका के रहने वाले James L. Dalton नामक व्यक्ति ने डाल्टन एडिटिंग नामक मशीन निर्माण किया और इन्होंने 1948 में karta calculator बनाया था उस समय इस कैलकुलेटर की कीमत काफी ज्यादा होने की वजह से है कोई भी व्यक्ति खरीद नहीं पाता था लेकिन इस कैलकुलेटर में खास बात यह थी कि बड़ी भी मैथमेटिक्स की गणना कर सकते थे |

1960 में इलेक्ट्रॉनिक कैलकुलेटर बनाना स्टार्ट किया गया कैलकुलेटर की आकार इतना छोटी और पतली कर दिया गया कि कोई भी व्यक्ति इस को आसानी से जेब में रख सकते थे इसके बाद 1970 में जापान और इटली ने मिलकर एक इलेक्ट्रॉनिक कैलकुलेटर डिवाइस बनाया जिसके मदद से कोई भी व्यक्ति आसानी से गणना कर सकते है| 

कैलकुलेटर के प्रकार

कैलकुलेटर की वर्तमान समय में बात की जाए तो आपको अन्य प्रकार की कैलकुलेटर मार्केट में देखने को मिलेगा लेकिन प्राचीन समय में कैलकुलेटर की बात की जाए तो मुख्य रूप से चार कैलकुलेटर था जो कि उस समय ज्यादा लोकप्रिय था।


आइए हम जानते हैं उस समय की सबसे ज्यादा पॉपुलर कैलकुलेटर कौन कौन सा था।

  1. basic calculator
  2. graphic calculator
  3. scientific calculator
  4. financial calculator

उस समय यही कैलकुलेटर काफी ज्यादा लोग इस्तेमाल करते थे आइए हम इसके बारे में एक-एक करके जानते हैं।

basic calculator

इस कैलकुलेटर को सबसे अच्छा इसलिए मैं मानता हूं कि इस कैलकुलेटर में बच्चे या कोई व्यक्ति इसे आसानी से इस्तेमाल कर सकता है गणना करने के लिए, इस कैलकुलेटर में चार Numerical Operations होता हैं जैसे कि जोड़,घटाव,गुणा,भाग और परसेंटेज होता है। इसलिए इसे आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है इसमें आपको किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होती है।

कागज की खोज किसने किया

लैपटॉप का आविष्कार किसने किया

graphic calculator

इस कैलकुलेटर को एडवांस लेवल पर डिजाइन किया गया है और इसमें आपको बेसिक लेवल का गणतज्ञ मिलेगा जैसे कि Measuring Graph , Roots and Power,Bar Chart , Fractions, Roots, Polar , Logarithm , Rectangular , and Power , Pie Chart,Statistics इसके अलावा इस कैलकुलेटर में अन्य प्रकार के आपको फंक्शन देखने को मिलेगा


scientific calculator

यह कैलकुलेटर एडवांस लेवल हैं जिसमे आपको Numerical Operations के है जिसमें आपको Logarithm,Unit Change,Notation, Fraction, Matrix,Statistics,Constant, इसके अलावा आपको अन्य प्रकार की फंक्शन्स इसी कैलकुलेटर में आपको मिल जाएगा।


financial calculator

यह कैलकुलेटर उन लोग के लिए अच्छा है जो लोग कॉमर्स क्षेत्र यानी एकाउंट्स हैं वह लोग इस कैलकुलेटर को अपने गणितज्ञ करने के लिए इस्तेमाल करते हैं इस यंत्र में अन्य प्रकार के पेंशन होता होता है जैसे कि Cash Flow, Multi Reply,Simple and Compound Interest इसमें आपको इस प्रकार की फीचर देखने को मिलेगा।


कैलकुलेटर का इतिहास

ब्लेस्स पास्कल ने कैलकुलेटर आविष्कार से पहले 1623 में एड्डिंग मशीन बनाये जिसका नाम "calculating clock" रखा गया। इस यन्त्र का अविष्कार Wilhelm Schick Curd ने किया था सबसे पहला कैलकुलेटर फिलिप वैज्ञानिक फंक्शनल कैलकुलेटर का अविष्कार किया था इस कैलकुलेटर के जरिए टारमंडलों और घड़ियाँ की गणतज्ञ करने में मदद मिलीथी


 चार्ल्स ज़ेवियर थॉमस ने सन 1820 में arthrometer नाम के पहले mechanical calculator बनाया जो कि आने वाले समय में काफी सफल हुआ और इससे बड़े पैमाने यानी कमर्शियल इस्तेमाल के लिए बनाया गया सन1954 में IBM कंपनी के द्वारा आल ट्रांजिस्टर कैलकुलेटर बनाया गया और उस समय उसका का नाम IBM 608 रखा गया।


 ग्रेट ब्रिटैन के वैज्ञानिक बेल्ल पंच ने इलेक्ट्रॉनिक डेस्कटॉप कैलकुलेटर 1961 में बनाया और इसने कैलकुलेटर का नाम ANITA MK – 8 रखा था और इसके बाद टेक्सास इंस्ट्रूमेंट कंपनी ने हांडलेड कैलकुलेटर अविष्कार 1967 में किया और यह कैलकुलेटर का नाम CAL TECH रखा और इसमें कीबोर्ड से से हिसाब किताब किया जाता था इस कीबोर्ड में 18 keys का इस्तेमाल किया गया है।


1971 में कैलकुलेटर कहां है एकदम छोटा आकार लांच किया गया अवनीश कैलकुलेटर में एक इंटीग्रेटेड चिप्स का इस्तेमाल किया गया आवर इसके साथ ही साथ के लिए डिस्प्ले का भी इस्तेमाल किया गया वह समय किस कैलकुलेटर की कीमत $395 थी जो कि उस समय काफी महंगी में बेची जा रही थी उसके बाद सन् 1974 में प्रोग्राम ई कैलकुलेटर का विकसित किया गया इस कैलकुलेटर का नाम था HP – 65 इस कैलकुलेटर के माध्यम से प्रोग्रामस 100 लाइन में प्रोग्राम लिख सकते थे इस कैलकुलेटर में वह अपना रिकॉर्ड को बना कर रख सकते थे और इस कैलकुलेटर का उस समय कीमत $795 था यह कैलकुलेटर जो कि स्पेस के इस्तेमाल के लिए भेजा गया था


 CASIO नाम की कंपनी ने पहला ग्राफ़िक कैलकुलेटर सन 1985 में आविष्कार किया था और इस कैलकुलेटर में 422 बाइट्स के मेमोरी स्टोरेज थी जिसमे 10 प्रोग्राम डाटा को स्टोर किया जा सकता था। लेकिन इसके बाद 2003 में पहला ग्राफ़िक कैलकुलेटर विथ टच फंक्शन्स के साथ लांच किया और इसने इसका नाम "SHARP EL 9650" रखा और इस कैलकुलेटर को शार्प कंपनी द्वारा बनाया गया जोकि टच स्क्रीन कैलकुलेटर के आने से काफी सारे बदलाव हो गया

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि आपको कैलकुलेटर का आविष्कार किसने किया इसके बारे में पूर्ण रूप से पता चल गया होगा अगर आपको इसके अलावा और भी सवाल है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं मैं आपका सवाल की पूरी रिप्लाई देने की कोशिश करूंगा।


अगर हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल में कहीं पर भी गलती हो तो आप हमें कॉमेंट के जरिए उस आर्टिकल को एडिट करवा सकते हैं।


दोस्तों अगर हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करना ना भूलें क्योंकि दोस्तों एक आर्टिकल लिखने में बहुत ज्यादा मेहनत करना पड़ता है इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अवश्य शेयर करें।

Post a Comment

0 Comments