मेमोरी कार्ड का आविष्कार किसने और कब किया

  क्या आप जानना चाहते हैं कि मेमोरी कार्ड का आविष्कार किसने और कब किया यह पोस्ट बहुत ही कमाल के होने वाला है क्योंकि इस आर्टिकल में आपको मेमोरी कार्ड क्या है मेमोरी कार्ड का प्रकार क्या है सभी जानकारी आपको मिल जाएगी।

दरअसल हम सभी लोग अपने मोबाइल के लिए मेमोरी कार्ड इस्तेमाल करते हैं आपको इसके नाम से ही पता चल गया होगा की मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल हम लोग storage के लिए करते हैं मेमोरी कार्ड एक प्रकार की storage device हैं जिसका इस्तेमाल video, audio, photos, document के store करने के लिए करते हैं ये permanent और non-volatile medium सुविधा देती है data के store करने के लिए किसी भी attached device में।

memory card ka avishkar kisne kiya

मेमोरी कार्ड का अधिक इस्तेमाल कैमरा और मोबाइल फोन में किया जाता है यह पोर्टेबल डिवाइस होता है इसे flash cards भी कहा जाता है इसलिए मैं आपको इस आर्टिकल में Memory Card in hindi के बारे में जानकारी पूरी बताने की कोशिश करूंगा और इसके साथ में आपको सही और गलत मेमोरी कार्ड के चुनाव करने बारे में बताएंगे तो आइए हम जानते हैं की मेमोरी कार्ड क्या है मेमोरी कार्ड के प्रकार कितने हैं।

पेन का अविष्कार किसने किया 

घड़ी की खोज किसने किया?

मेमोरी कार्ड क्या है? (What is memory card in hindi)

दोस्तों आपके जानकारी के लिए मैं बता दूं कि मेमोरी कार्ड एक storage device होता है जिसमें किसी भी डाटा को स्टोर किया जा सकता है जैसे कि video, audio, images, document इन सभी डाटा को स्टोर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।


इसके वैकल्पिक रूप से फ्लैश मेमोरी कार्ड कहते है इसका उपयोग electronic devices में data store करने के लिए किया जाता है. इस तरह के डिवाइस में memory cards का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि आप देख सकते हैं digital cameras, cell phones,digital camcorders, handheld computers, MP3 players, PDAs, game consoles इत्यादि में किया जाता है।


मेमोरी कार्ड का आविष्कार किसने किया

मेमोरी कार्ड का आविष्कार तोशि‍बा कंपनी ने दुनिया के प्रथम 64 GB मेमोरी कार्ड बनाई थी। जबकि इस कंपनी ने 2009 में 16 GB का मेमोरी कार्ड मार्केट में लॉन्च किया था। इस कार्ड के जो Data speed हैं वे बहुत अधि‍क है। इसकी डेटा राइट गति 35 mbps और रीड गति 60 mbps है जो 2.4 गीगाबाइट वीडि‍यो संचिका को 70 सेकंड में लोड कर लेता है। मेमोरी कार्ड और पेन ड्राइव का डाटा पासवर्ड से सुरक्षित रख सकते हैं लेकिन इसके लिए सॉफ्टवेयर उपकरण उपलब्ध होते हैं। जो कि आपको डाउनलोड करना पड़ेगा।


सन 1956 को आईबीएम कंपनी 5MB का मेमोरी कार्ड बनाया था जो कि बहुत ही बड़ा था और 2019 में वह मेमोरी कार्ड 512gb का बनाया गया है जैसे-जैसे हमारा टेक्नोलॉजी आगे की तरफ बढ़ रही है ठीक उसी प्रकार जो भी अविष्कार हुआ है दुनिया में सब छोटे और पतली कर दी गई है।दोस्तो आप को पता चल गया होगा कि मेमोरी कार्ड का खोज किसने किया और हम जानते हैं इसके बारे में की मेमोरी कार्ड की प्रकार क्या है।

कैलकुलेटर का आविष्कार किसने किया

मेमोरी कार्ड कितने प्रकार की होता है?

मेमोरी कितने प्रकार की होती है दरअसल आपके मन में यह सवाल उठता ही होगा और कौन सी मेमोरी कार्ड कहां उपयोग किया जाता है आपको पता नहीं होगा तो आइए हम जानते हैं मेमोरी कार्ड की प्रकार (type) और इन मेमोरी को कहां कहां इस्तेमाल करते हैं इसके बारे में,

  • SD Memory Card
  • MicroSD Memory Card
  • SDHC Memory Card
  • microSDXC
  • Compact Flash Card
  • SDXC Memory Card
  • microSDHC

मेमोरी कितने प्रकार की होती है अब हम इसके बारे में एक-एक करके जानेंगे कि कौन सी मेमोरी कहां इस्तेमाल करते हैं तो देर किस बात की है हम जानते हैं।

SD Memory Card:-ये सबसे इसमें एडवांस फॉर्मेट होता है SD card में, इस standard SD card की dimensions होती हैं 32 mm by 24 mm by 2.1 mm के साथ में मेमोरी की क्षमता करीब 4 गीगाबाइट तक की होती है.इसमे मेमोरी की performance की level उतनी नहीं होती जितना की दुसरे SD memory card का क्षमता होती है।

SD Memory Card का full form "Secure Digital Card" होती है।

MicroSD Memory Card:- दोस्तों इस मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल पोर्टेबल मोबाइल में किया जाता है ये MicroSD Memory Card दिखने में बहुत ही छोटा होता है basic SD card की तुलना में अच्छा होता है।


SDHC Memory Card:- इसका जब परिचालन किया गया जब HD videos और high-resolution image recording की मांग मार्केट में काफी बढ़ गया. इस Memory Card अभी बहुत से SD-enabled devices में उपयोग किया जाता है.

SDHC का full form ''Secure Digital High Capacity'' होता है।

कागज की खोज किसने किया

लैपटॉप का आविष्कार किसने किया

SDHC cards का समान size और strorge होती है जैसे की standard SD में होती है लेकिन ये मेमोरी कार्ड नयी SD specification of version 2.0 हैं. अगर memory capacity 4gigabyte या उससे अधिक होता हैं तब उसे SDHC card में श्रेणी में रखी जाती है रखी जाती हैं।


वर्तमान के समय में बात किया जाए तो SDHC specifications के अनुसर memory cards की capacity 4GB से 32GB के भीतर होना चाहिए. अगर हम कार्ड को खरीद रहे हैं तब ये चीज़ check करें की वो device जिसमें आप इसे इस्तमाल करने वाले हैं वो इस card के compatible कर पाएगी या नहीं।


microSDXC:- इसमें microSDXC cards की storage capacity 32 GB से 2 TB के भीतर होती है. इस मेमोरी कार्ड में डाटा करने की ट्रांसफर क्षमता बहुत काफी तेज होती है ये microSD और microSDHC की तुलना में. ये  उसी device के साथ अनुकूलिट होती हैं जिनमें microSDXC compatible slot उपलब्ध होता है.


Compact Flash Card:- इस प्रकार कि मेमोरी कार्ड बहुत बड़ी होती है ये क्योंकि इसमें बहुत सारे connections होते हैं इसका इस्तेमाल ज्यादा नहीं होता है जितनी की SD cards की होती है, लेकिन कुछ ही large capacities होती हैं और बहुत ही तेजी से (high speed) में ये function कर सकते हैं| ये अक्सर professional photographers के द्वारा उपयोग करते हैं।


SDXC Memory Card :- येchip card एक उच्च क्षमता संस्करण के होता है जोकि ये SDXC cards के capacities start होती है और यह 64GB से और ये maximum theoretical capacity 2TB तक पहुँच जाती है।


SDXC का full form Secure Digital Extended Capacity होता हैं।


microSDHC:- यह नया वर्जन हैं जोकि इसे सन 2007 में पहली बार परिचालन किया गया था. इसमें मेमोरी कार्ड में 32 GB की data होती है और इसकी transfer rate करीब 10 MB पर second होती हैं ये microSDHC cards backwards compatible नहीं होता है, इसमें जाहिर सी बात यह है कि ये older microSD device में compatible नहीं होता है।

दूरबीन का आविष्कार किसने किया

मेमोरी कार्ड की साइज कैसे बढ़ाए?

वैसे तो मेमोरी कार्ड में स्टोरेज स्पेस फिक्स होता है इस मेमोरी कार्ड में साइज को बधा नहीं सकता है यदि आपके मेमोरी कार्ड फुल हो गया है तो अगर आप इस परिस्थिति में कोई नया महत्वपूर्ण डांटा डालना चाहते हैं तो उसके लिए आपको कुछ मेमोरी कार्ड से डिलीट करना पड़ेगा जिसे आप इस्तेमाल नहीं करते हैं या फिर आप उस फाइल को कहीं दूसरे जगह रखवा सकते हैं।


अगर आप ज्यादा स्टोरेज मेमोरी लेना चाहते हैं तो ले सकते हैं क्योंकि जिस मेमोरी में ज्यादा स्पेस होगी उसमें और अधिक महत्वपूर्ण डाटा रख सकते हैं तो इसके लिए आपको अधिक स्पेस वाली मेमोरी खरीदना पड़ेगा।


सबसे अच्छा मेमोरी कार्ड कौन सा है?

यह सवाल और व्यक्ति के मन में उठता है कि सबसे अच्छा मेमोरी कार्ड कौन सा है मैं आपको कुछ तरीके बताएं जिसे आप पहचान सकते हैं कि कौन सा मेमोरी कार्ड अच्छा है आप जब memory card की specifications और parameters को देखना होगा Flash memory card खरीदने से पहले.


आपको यह पहले चीज ध्यान देना पड़ेगा वो है size of card. आज के समय में cards की कई प्रकार की sizes मार्केट में उपलब्ध हैं इसके लिए आपको पहले अपने devices को देखना होगा की क्या आपके द्वारा चुना गया size आपके device के लिए सही होगा या नहीं। उसके बाद आपको मेमोरी कार्ड की storage को देखना होगा क्योंकि images और video को store करने के लिए ज्यादा storage की जरुरत होती है. इसलिए आपको मोबाइल के अनुसार मेमोरी चुनना चाहिए


जैसे कि आप नीचे देख सकते हैं और आप इसी प्रकार के मेमोरी कार्ड खरीदना चाहिए।


जब मैं आपको पर बताया हूं इसके बारे में आपको खास ध्यान रखना चाहिए वो क्योंकि इसमें अलग-अलग devices के हिसाब से इनकी speed की requirement भी अलग-अलग होती है इनका speed को MB/s में measure है


आमतौर पर videosऔर photos के लिए high speed memory card की आवश्यकता होती है. इसके साथ हाई-स्पीड कार्ड होती है जिससे Devices से आसानी से transfer किया जा सकता है।

तो आपको इस प्रकार की मेमोरी करते समय ध्यान में रखना चाहिए अगर आप थोड़ा से भी मिस्टेक करते हैं तो आप सही मेमोरी नहीं खरीद पाए क्योंकि खरीदने से पहले यह बात आप अपने माइंड में हमेशा याद रखें।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि आपको मेमोरी कार्ड का आविष्कार किसने किया इसके बारे में पूर्ण रूप से पता चल गया होगा अगर आपको इसके अलावा और भी सवाल है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं मैं आपका सवाल की पूरी रिप्लाई देने की कोशिश करूंगा।


अगर हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल में कहीं पर भी गलती हो तो आप हमें कॉमेंट के जरिए उस आर्टिकल को एडिट करवा सकते हैं।


दोस्तों अगर हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करना ना भूलें क्योंकि दोस्तों एक आर्टिकल लिखने में बहुत ज्यादा मेहनत करना पड़ता है इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अवश्य शेयर करें।

Post a Comment

0 Comments