मोटरसाइकिल का आविष्कार किसने और कब किया

  क्या आप जानते हैं मोटरसाइकिल का आविष्कार किसने और कब किया अगर नहीं तो आप इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें इस आर्टिकल में, मैं आपको मोटरसाइकिल अविष्कार जनक कौन है?आइये जानते है इसके बारे में


मोटरसाइकिल को ही बाइक कहते हैं ऐसा इसलिए कहते हैं कि मोटरसाइकिल मोटर से चलने वाली साइकिल होती है इसके साइकिल के देख कर ही डिजाइन किया गया है तुम तो आज के समय में मोटरसाइकिल इतने लोकप्रिय हो गई है कि दुनिया के आपको हर घरों में देखने को यह बाइक मिलेगी उसमें से हमारा एक भारत देश है जहां पर आप को अधिक से अधिक बाइक देखने को मिलेगा।

motorcycle-ka-avishkar-kisne-kiya

आज के समय मेंबर साइकिल के इस्तेमाल इसलिए किया जाता है कि लोगों के पास बहुत ही कम टाइम रहता है और उसको पूरे दिन इधर उधर जाना पड़ता है इसलिए समय को बचत करने के लिए मोटरसाइकिल का उपयोग किया जाता है और आज के समय में मोटरसाइकिल की कीमत बहुत ज्यादा बढ़ती जा रही है।


आज के समय में मोटरसाइकिल केवल कामों के लिए नहीं शौक के लिए भी रखे जाते हैं बाइक सबसे ज्यादा बिकने वाली एक साधन है विकासशील देशो मे इन की बिकना अन्य किसी भी वाहन से ज्यादा होती है ऐसा इसलिए कि विकासशील देशों में कम कीमतों और अधिक ईंधन अर्थव्यवस्था के कारण मोटरसाइकिल भारी उपयोगितापूर्ण हैं।


जिस तरह से मोटरसाइकिल की तादाद बढ़ रही है ठीक उसी प्रकार नुकसान भी बढ़ रहा है ऐसा इसलिए कि यह साइकिल की कीमत और किसी गाड़ी की कीमत की तुलना में बहुत कम होते हैं इसलिए ज्यादा से ज्यादा लोग मोटरसाइकिल करना पसंद करते हैं।


मोटरसाइकिल क्या है? (What is motorcycle in Hindi)

मोटरसाइकिल एक साधन है जिसके इस्तेमाल करके आप अपना कीमती समय बचा सकते हैं हमारे भारत देश में बहुत अधिक मात्रा में मोटरसाइकिल लिखी जाती है और इसी कारण की वजह से हमारे देश में पेट्रोल की खपत ज्यादा होती है। इसके वजह से प्रदूषण बहुत ज्यादा ही होती है इसलिए सरकार ने एक नया कानून बनाया है।


कि बाइक की इंजन में बदला किया और Bs-4 इंजन का इस्तेमाल किया क्योंकि मोटरसाइकिल के अंदर पहले Bs-3 इंजन काजल का इस्तेमाल किया गया था जो किया बहुत ज्यादा प्रदूषित करता था लेकिन कंपनियां ज्यादा प्रदूषण देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक बाइक का बनाना शुरू कर दिया है।

इलेक्ट्रॉनिक बाइक

ज्यादा प्रदूषण होने के कारण भारत सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक बाइक का बनाना शुरू कर दिया है और बहुत ज्यादा मार्केट में आपको इलेक्ट्रॉनिक बाइक जाने गाड़ी देखने को मिलेगी जो कि इसमें कोई भी प्रदूषण की खतरा नहीं है।


इस बाइक को लंबी दूरी तक चला सकते हैं इसके बाद आप इसमें एक बैटरी लगा होता है जोकि खतम होने पर इसको चार्ज करना पड़ता है फुल चार्ज होने के बाद लगभग 60 किलोमीटर आसानी से दूरी तय कर सकते हैं यह बहुत अच्छी बाइक है जो कि मार्केट में उपलब्ध है।


और बहुत ही तेजी से इलेक्ट्रॉनिक बाइक और इलेक्ट्रॉनिक गाड़ी मार्केट में आ रही है और इसका कीमत भी बहुत कम है।

मोटर साइकिल की अविष्कार किसने किया?

मोटर साइकिल की अविष्कार 1855 में जर्मन के रहने वाले हैं Gottlieb Daimler and Wilhelm Maybach‌ ने किया था उस समय मोटरसाइकिल का नाम daimler reitwagen रखा था इस मोटरसाइकिल को साइकिल के डिजाइन देखते हुए बनाया गया है।


साइकिल में पैरों से पेंडल मारना पड़ता था लेकिन मोटरसाइकिल पेट्रोल के माध्यम से चलाया जाता था लेकिन मोटरसाइकिल का हैंडल का उपयोग किया गया है उस समय इस मोटरसाइकिल के वजन 50 kg था और मोटरसाइकिल की speed उस समय 45 किलोमीटर प्रति घंटा था 


इस मोटरसाइकिल में उस समय तो सिलेंडर लगाया गया था जोकि 2.5 HP power पर चलता था उस समय मोटरसाइकिल के Hildebrand और Wolfmüller ने लंदन के Science Museum में रखा गया है।


भारत में सबसे पहले मोटरसाइकिल कब खरीदी गईं थीं?

भारत में सबसे पहले मोटरसाइकिल 1955 में भारत सरकार द्वारा भारतीय सेना के लिए खरीदी गई थी।


मोटर साइकिल से फायदे

  • मोटरसाइकिल आविष्कार होने से हमारा कीमती टाइम का बहुत बचत होता है।
  • मोटरसाइकिल के द्वारा हम एक जगह से दूसरे जगह बहुत ही आसानी से जा सकते हैं।
  • मोटरसाइकिल के इस्तेमाल करके आप खुद के बिजनेस को बहुत आगे तक ले जा सकते हैं बहुत से व्यवसाय लोग मोटरसाइकिल के इस्तेमाल करते हैं अपने सामान बेचने के लिए।
  • मोटरसाइकिल पर एक साथ तीन व्यक्ति बढ़ सकते हैं लेकिन भारत सरकार द्वारा 2 ही व्यक्ति के बैठने की अनुमति है।
  • अगर आप किसी आपातकालीन स्थिति में फंस गया है तो उस पर स्थिति में है आप मुझे साइकिल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

मोटरसाइकिल के नुकसान

  • अगर आप बिना हेलमेट के द्वारा कहीं पर गए तो सरकार द्वारा पकड़े जाने पर आपको जुर्माना देना पड़ेगा।
  • अगर आप बाइक इस्तेमाल करते हैं तो हमेशा डीप लाइट का प्रयोग जरूर करें
  • यदि आप मोटरसाइकिल के इस्तेमाल करते हैं तो आपकी मैक्सिमम स्पीड 40 की होनी चाहिए इससे अधिक होने पर आप का दुर्घटना हो सकता है।

मोटरसाइकिल का इतिहास

दोस्तों मोटरसाइकिल का अविष्कार से पहले साइकिल का आविष्कार हुआ जिसमें पेंडल पैर से चलाना होता था उसके देखते हुए मोटरसाइकिल का आविष्कार किया गया है जिसमें मोटर लगाया गया उसके बाद उसे मोटरसाइकिल बोलने लगे।


उसके बाद सन् 1855 में जर्मनी के रहने वाले हैं दो व्यक्तियों जिनका नाम Gottlieb Daimler और Wilhelm Maybach‌ था जोकि उसने सबसे पहले डेमलर रीटवगेन नामक मोटरसाइकिल आविष्कार किया जो कि पेट्रोल से चलाया जाता था।


इसके बाद सन् 1884 में edward butler ने लंदन में Stanley Cycle Show में तीन पहिया का Commercial डिजाइन लोगों के बीच दिखाया के बाद उसके बाद 1888 में Merriweather Fire Engine Company ने इस वाहन का निर्माण किया ।


Butler Petrol Cycle एक तीन पहिया वाला मोटरसाइकिल था जिसमें सीधे 5/8 HP (466W) 600 CC (40 Inch,5 inch, 3 inch, 2 inch (57 × 127-mm)) फ्लैट जुड़वां चार stroke engine द्वारा संचालित किया गया 


इसके बाद 21 वीं सदी में,daimler reitwagen को दुनिया की पहली मोटरसाइकिल माना गया और इसके बाद उद्योग में चीनी मोटरसाइकिल और जापानी मोटरसाइकिल कंपनी द्वारा मोटरसाइकिल बनाने की शुरुआत किया गया बड़ी क्षमता और छोटी क्षमता वाली 300cc वाली मोटरसाइकिल मार्केट में उपलब्ध कराया गया।


जापानी हुंडा जो कि दुनिया के मशहूर मोटरसाइकिल बनाने वाली कंपनी है जो कि 1 9 58 में होंडा सुपर क्यूब है या मोटरसाइकिल सबसे ज्यादा बिकने वाला वाहन बन गया इसके बाद अप्रैल 2008 में 60 मिलियन यूनिट का उत्पादन हुआ अब इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा भारतीय कंपनी का बोलबाला है।

ये भी पढ़े:-

वाशिंग मशीन का आविष्कार किसने किया

बैटरी का आविष्कार किसने किया

कार का आविष्कार किसने किया

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया

निष्कर्ष:-

मुझे उम्मीद है कि आपको मोटरसाइकिल का आविष्कार किसने किया इसके बारे में पूर्ण रूप से पता चल गया होगा अगर आपको इसके अलावा और भी सवाल है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं मैं आपका सवाल की पूरी रिप्लाई देने की कोशिश करूंगा।


अगर हमारे द्वारा लिखे गए आर्टिकल में कहीं पर भी गलती हो तो आप हमें कॉमेंट के जरिए उस आर्टिकल को एडिट करवा सकते हैं।


दोस्तों अगर हमारे आर्टिकल आपको पसंद आया तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करना ना भूलें क्योंकि दोस्तों एक आर्टिकल लिखने में बहुत ज्यादा मेहनत करना पड़ता है इसलिए आपसे अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अवश्य शेयर करें।

Post a Comment

0 Comments